Posted in Emotions, Hindi, Love

Main aur Meri Umeed !!!

कुछ दिनों से दिल में, कोई बोझ समाया है |

ना जाने ये भारीपन, मन में कहाँ से आया है ||

देख रहा हूँ पास, केवल अँधेरा ही छाया है |

खुद को इन अंधेरो में, तन्हा अकेले पाया है ||

 

शायद इस सब की वजह,मैं और मेरी उम्मीद थी |

वो सरे अच्छे दिन, मेरे सपने और मेरी नींद थी ||

बदल सकता हूँ उम्मीदों को, लेकिन सोचता हू फिर |

क्यों बदलना है कुछ, जो हो रहा होने दो ||

 

ये सब कर्म है मेरे, मुझे अपने पाप धोने दो |

क्या करोगे तुम जान कर, मुझे मेरी तन्हाइयो में खोने दो ||

इस अच्छे लोगो की दुनिया में, मुझे और बदनाम होने दो |

मेरे आंसू तो सूख गए, मेरे दिल को तो रोने दो ||

 

मेरे आँखों को भी , मेरी गलतियो पर लहू-लुहान होने दो |

सब कुछ ठीक हो जायेगा, मेरी जिंदगी को शाम होने दो ||

दिल भी चुप हो जायेगा, मुझको हमेशा के लिए सोने दो |

आँखे भी बंद हो जाएँगी, मंजिल 4 कंधो पर शमशान होने दो ||

Advertisements

Author:

Not organized, But you will not find it messy. Not punctual, But will be there at right Time. Not supportive, But will be there, when needed. Not a writer, But you will find this interesting.

7 thoughts on “Main aur Meri Umeed !!!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s