Posted in Emotions, Fiction, Hindi, Poetry

किरदार !!

इस रंग बदलती दुनिया में,
बेमतलब का प्यार खोज रहा हू ।
प्यार, मोहब्बत या इश्क़ नहीं,
साथ निभाने वाला यार खोज रहा हू ।।
जिंदगी एक कहानी है ।
कहानी का एक किरदार खोज रहा हू ।।

छोड़ चुके रंगमंच जो,
उन्हें भी बार बार खोज रहा हू ।
जो थे न कभी अपने,
उन्हें तो बेकार खोज रहा हू ।।
जिंदगी एक कहानी है ।
कहानी का एक किरदार खोज रहा हू ।।

इस ज्ञान भरी दुनिया में,
कुछ अपने विचार खोज रहा हू ।
इस चकाचौंध सी दुनिया में,
थोड़ा सा सुनसान खोज रहा हू ।।
जिंदगी एक कहानी है ।
कहानी का एक किरदार खोज रहा हू ।।

बीत रही तारीख-ए-जिंदगी,
जिन्दा होने का सार खोज रहा हू ।
खुद को जो न पहचान सका तो,
किसी और को तो बेकार ही खोज रहा हू ।।
खुद की सोच, खुद की रूह,
और खुद के संस्कार खोज रहा हू ।
हर पल बदलती कहानी में,
अपना असल किरदार खोज रहा हू ।।

Advertisements

Author:

Not organized, But you will not find it messy. Not punctual, But will be there at right Time. Not supportive, But will be there, when needed. Not a writer, But you will find this interesting.

28 thoughts on “किरदार !!

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s